Sun. Jun 16th, 2024

पीडब्ल्यूडी द्वारा कोरोना काल में सेवानिवृत्त पूर्व कार्मिकों के सम्मान में कार्यक्रम आयोजित

बीकानेर, 22 अगस्त। शिक्षा मंत्री डॉ. बी.डी.कल्ला ने कहा कि वरिष्ठ नागरिक अपने एक-एक क्षण का उपयोग परमार्थ के लिए करें।
डॉ.कल्ला मंगलवार को पीडब्ल्यूडी सभागार में कोराेना संक्रमण काल के दौरान सेवानिवृत्त पीडब्ल्यूडी के 30 पूर्व कार्मिकों के सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्ति प्रत्येक कार्मिक के लिए एक सतत प्रक्रिया है। प्रत्येक व्यक्ति को इस दौर से गुजरना होता है। जीवन पर्यंत लोक सेवक के रूप में काम करने के पश्चात सेवानिवृत्ति कार्मिक अपने जीवन के बचे हुए समय का उपयोग समाज सेवा में करें। उन्होंने कहा कि कोरोना का दौर बेहद मुश्किल रहा। इस दौरान विभिन्न पाबंदियों के कारण इस अवधि में सेवानिवृत्त हुए कार्मिकों को विधिवत विदाई नहीं दी जा सकी। ऐसे में इनके सम्मान में सामूहिक कार्यक्रम करना अच्छी परंपरा है। उन्होंने कहा कि युवा कार्मिकों के लिए यह प्रेरणादाई साबित होगा।
इस दौरान शिक्षा मंत्री ने शहरी क्षेत्र में गत पौने पांच वर्षों में करवाए गए विकास कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि वर्ष 2052 तक की पेयजल आवश्यकताओं को ध्यान रखते हुए 619 करोड रुपए की वृहद पेयजल योजना पर काम किया जा रहा है। इसी प्रकार शिक्षा, चिकित्सा और सड़क तंत्र विकास सहित आधारभूत सुविधाओं की वृद्धि में इस दौरान उल्लेखनीय कार्य हुए हैं। उन्होंने बजट घोषणाओं में मुख्यमंत्री द्वारा बीकानेर को दी गई सौगातों के बारे में बताया।
शिक्षा मंत्री ने सभी पूर्व कार्मिकों को स्मृति चिन्ह प्रदान किए। इस दौरान सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा शिक्षा मंत्री का अभिनंदन किया गया। विभाग के अधीक्षण अभियंता मुकेश गुप्ता ने आभार जताया। कार्यक्रम का संचालन के के व्यास ने किया। इस दौरान सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधिशासी अभियंता कमल खत्री, सुनील गहलोत, विमल गहलोत, नवल खत्री, शिखाविद सोहनलाल जोशी, सीन महाराज सहित अनेक लोग मौजूद रहे। इस अवसर पर कार्मिकों तथा उनके परिजनों ने अपने अनुभव साझा किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *