Sun. Jun 16th, 2024

50,000 गांधी प्रेरकों की नियुक्ति

जयपुर । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आदर्शों को जन जन तक पहुंचाने के लिए राजस्थान भर में 50000 गांधी प्रेरकों की नियुक्ति की घोषणा की है। यह सभी गांधी प्रेरक के रूप में जन-जन तक गांधी के आदर्श और विचारों को पहुंचाने का कार्य करेंगे ।

देश का पहला विभाग- शांति एवं अहिंसा विभाग

अशोक गहलोत ने दूसरी बार मुख्यमंत्री बनने के बाद राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आदर्शों को चिरस्थाई बनाने के उद्देश्य से राजस्थान में देश का पहला शांति एवं अहिंसा विभाग की स्थापना की इसके तहत ब्लॉक लेवल से लेकर राज्य तक प्रकोष्ठो का  गठन कर पूरे वर्ष पर्यंत विभिन्न प्रशिक्षण शिविरों के दौरान गांधी के आदर्शों एवं विचारों का प्रशिक्षण दिया गया।

कई राष्ट्रीय कार्यक्रमों का भी आयोजन

शांति अहिंसा निदेशालय के तत्वाधान में राजस्थान में कई राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर के कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया जिससे युवाओं में गांधी के आदर्शों से ओतप्रोत करवाने का प्रयास किया गया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *