Thu. Jun 13th, 2024

बीकानेर । होली के पर्व के अवसर पर होने वाले विभिन्न पारंपरिक आयोजन बीकानेर में परवान पर है पूरे बीकानेर शहर के अंदरूनी क्षेत्र में जगह जगह फाग उत्सव के साथ रमम्तों का दौर चल रहा है बीकानेर मौज मस्ती और खाने खिलाने वाले शहर के नाम से प्रसिद्ध है और यहां के लोग होली के रंग में  लगभग पूरे 10 दिन होली के आनंद में मशगूल रहते हैं बीकानेर की अंदरूनी शहर की गलियों में लोग विभिन्न बहरूपिया के रूप धारण कर अपने परिजनों के घर जाते दिखाई दे रहे हैं विभिन्न मोहल्लों के लोग समूह बनाकर अपने आसपास के में जाकर होली के पारंपरिक गीतों का आयोजन कर रहे  मोहल्लों लोग इन समूहों को चाय नाश्ते के प्रबंध के  साथ फूलों की बरसात भी करते हैं बीकानेर की होली अपने आप में अनूठी होली है लोग यहां इस आयोजन का भरपूर आनंद लेते हैं कोरोना की वजह से पिछले 2 सालों से होली का रंग फीका पड़ गया था लेकिन इस बार कोरोना को मात देते हुए लोग अब होली के आनंद में पूरी तरह से घुलमिल गए हैं ।

हर्ष व्यास जाति का पानी डोलची का खेल

रियासत काल से ही हर्ष और व्यास जाति के समुदाय के बीच यह खेल खेला जाता है लोग पानी के बड़े-बड़े खड़ा हो भरकर और चमड़े से बने डोलची से एक दूसरे के ऊपर जोर से पानी के छपाक से इस खेल को खेलते हैं हर्ष जाति का एक दूल्हा  बनकर पूरे समुदाय के लोग एक बारात के रूप में आसपास के रिश्तेदारों के घर पर भी जाते हैं जहां दूल्हे की रस्म अदायगी की जाती है और  चाय नाश्ते से लोगों की आवभगत की जाती

आचार्य और मरू नायक चौक में रम्मत का आज

होली के दौरान शहरों में होने वाली रहमतों के बीच आज आचार्य शॉप और वरुण नायक चौक में पर्वतों का आयोजन होगा आचार्य के चौक में आज अमर सिंह राठौर की रहमत का मंचन किया जाएगा मनु नायक चौक में आज युवाओं की एक बड़ी टोली रमत के मंजन के साथ-साथ डांडिया का भी आयोजन करेगी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *