Sun. Jun 16th, 2024

*सामाजिक सरोकार के कार्यों में सदैव आगे रहते हैं बीकानेर के भामाशाह: भाटी*
*द मदर केयर्स ट्रस्ट द्वारा पीबीएम के वार्ड आर में करवाया गया नवीनीकरण और सौंदर्यीकरण कार्य*

बीकानेर, 27 फरवरी। ऊर्जा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि बीकानेर के भामाशाह सामाजिक सरोकार के कार्यों में सदैव आगे रहते हैं। द मदर केयर्स ट्रस्ट द्वारा पीबीएम अस्पताल में करवाए गए कार्य इसी श्रंखला की एक कड़ी है।
ऊर्जा मंत्री रविवार को पीबीएम अस्पताल के आर वार्ड में मदर केयर्स ट्रस्ट द्वारा बुनियादी सुविधाओं में विस्तार के पश्चात इसे अस्पताल प्रशासन को सुपुर्द करने के कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बीकानेर का पीबीएम अस्पताल पूरे देश में विशिष्ट पहचान रखता है। यहां लगभग हर प्रकार की चिकित्सा सुविधा उपलब्ध है। इसी कारण बीकानेर संभाग और आसपास के जिलों के अलावा पड़ोसी राज्यों के मरीज भी यहां इलाज के लिए आते हैं। उन्होंने कहा कि कोविड संक्रमण के कठिन दौर में यहां के चिकित्सकों ने बेहतरीन कार्य किया, जिससे मरीजों को त्वरित राहत मिल सका।
ऊर्जा मंत्री ने कहा कि प्रदेशवासियों को सस्ता, अच्छा और गुणवत्तापूर्ण इलाज मिले, राज्य सरकार इसके प्रति संकल्पबद्ध है। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश में निशुल्क दवा और निशुल्क जांच जैसी योजनाएं चलाई गई। वहीं इस बार मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना प्रारंभ की गई है। हाल ही में पेश किए गए बजट में इस योजना का दायरा 5 से बढ़ाकर 10 लाख कर दिया गया है। निजी अस्पतालों को भी इस योजना के दायरे में जोड़ा गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में प्रदेश में चिकित्सकीय तंत्र सुदृढ़ीकरण की दिशा में उल्लेखनीय कार्य हुए हैं। नए अस्पताल तथा स्वास्थ्य केंद्र खोले गए हैं। उन्होंने द मदर केयर्स ट्रस्ट का आभार जताया और कहा कि संस्था इस पुनीत उद्देश्य को आगे बढ़ाएं। यह दूसरों के लिए भी प्रेरणादाई होगा।
डॉ. भीमराव अंबेडकर फाउंडेशन (अंबेडकर पीठ) के महानिदेशक मदन गोपाल मेघवाल ने कहा कि संस्था ‘पे बैक टू सोसाइटी’ के उद्देश्य के साथ कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक नागरिक का दायित्व है कि वह समाज के लिए कुछ ना कुछ करे। उन्होंने इसे डॉ. भीमराव अंबेडकर का ध्येय वाक्य बताया और कहा कि हमें शिक्षा, स्वास्थ्य और जल संरक्षण के साथ-साथ पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी कार्य करना चाहिए।
संभागीय आयुक्त डॉ. नीरज के पवन ने कहा कि पीबीएम अस्पताल की व्यवस्थाएं और अधिक सुदृढ़ हों, इसके लिए इससे प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति को अपनी जिम्मेदारी समझनी होगी। इसमें जिला और पीबीएम अस्पताल प्रशासन के अलावा सामाजिक संगठनों, दानदाताओं सहित प्रत्येक वर्ग की भूमिका महत्वपूर्ण होगी। उन्होंने कहा कि अस्पताल की आधारभूत सुविधाओं में और अधिक सुधार किया जाएगा। इसके लिए भामाशाह को प्रेरित किया जा रहा है। उन्होंने आमजन का आग्रह किया कि अस्पताल को साफ-सुथरा बनाए रखने में अपना सहयोग दें।
जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने कहा कि द मदर केयर्स ट्रस्ट द्वारा समाज को लौटाने के विचार को विचारधारा के रूप में बदल कर अनुकरणीय पहल की है। उन्होंने कहा कि पीबीएम अस्पताल बीकानेर पहचान से जुड़ा है, इसके मद्देनजर प्रत्येक व्यक्ति को इस के सर्वांगीण विकास में सहयोग देना चाहिए।
सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ मुकेश आर्य ने कहा कि पीबीएम अस्पताल को समय-समय पर अनेक भामाशाह का सहयोग मिलता रहा है यह बीकानेर की परंपरा का अंग है। समाजसेवी कन्हैयालाल कल्ला, पीबीएम अधीक्षक डॉ. परमिंदर सिरोही तथा डॉ. संतोष खाजोटिया ने संस्था के प्रयासों को सराहनीय बताया।
इससे पहले अतिथियों ने दीप प्रज्वलन कर तथा बाबासाहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर के चित्र के समक्ष पुष्पांजलि अर्पित कर कार्यक्रम की शुरुआत की। संस्था के सचिव पन्ना लाल चंदन ने स्वागत उद्बोधन दिया। उन्होंने बताया कि संस्था द्वारा अक्टूबर 2021 में आई वार्ड का नवीनीकरण और सौंदर्यकरण करवाया गया। वहीं आर वार्ड के सौंदर्यीकरण का कार्य गत 9 जनवरी को प्रारंभ हुआ तथा डेढ़ महीने में इसे पूर्ण करवा लिया गया। उन्होंने पीबीएम अस्पताल के छह महिला वार्डों में वेटिंग एरिया आगामी चरण में विकसित करवाने की जानकारी दी। संस्था के राजकुमार चंदन ने आगंतुकों का आभार जताया।
इस दौरान हरजी राम चंदन, सुषमा बारूपाल, सुनीता गौड़, दिलीप बांठिया, डॉ. शैली, डॉ. सुनील, डॉ सुनीता झांझडिया सहित अनेक लोग मौजूद रहे।
ऊर्जा मंत्री ने सौंदर्यकरण कार्यों का लोकार्पण किया तथा इन कार्यों का निरीक्षण करते हुए अस्पताल में भर्ती मरीजों से बातचीत की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *