Thu. Jun 13th, 2024

🙏 ।। जय शंकर ।। 🙏

🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक – 29 जनवरी 2022*
⛅ *दिन – शनिवार*
⛅ *विक्रम संवत – 2078*
⛅ *शक संवत -1943*
⛅ *अयन – उत्तरायण*
⛅ *ऋतु – शिशिर*
⛅ *मास – माघ
⛅ *पक्ष – कृष्ण*
⛅ *तिथि – द्वादशी रात्रि 8:37 तक तत्पश्चात त्रयोदशी*
⛅ *नक्षत्र – मूल 30 जनवरी रात्रि 02:49 तक तत्पश्चात पूर्वाषाढा*
⛅ *योग – व्याघात 06:03 तक तत्पश्चात हर्षण*
⛅  *राहुकाल – सुबह 10:04 से सुबह 11:28 तक*
⛅ *सूर्योदय – 07:17*
⛅ *सूर्यास्त – 18:26*
⛅ *दिशाशूल – पूर्व दिशा में*

 धर्म सम्राट स्वामी करपात्री महाराज और जगतगुरु शंकराचार्य श्री निरंजन देव तीर्थ पुरी के शिष्य श्री धर जी गुरु महाराज

चन्द्रमा आज सम्पूर्ण दिवारात्रि धनु राशि मे ।
🕉️ आज जन्म लेने वाले बच्चों के नाम
🕉️ ( ये, यो, भ, भी, भू, )
आदि अक्षरो पर रखे जा सकते है ।
इनकी जन्म की राशि धनु है
धनु राशि का स्वामी ग्रह वृहस्पति है ।
इनका जन्म पाया ताम्रपाद से है ।
⛅ *व्रत पर्व विवरण – शनिप्रदोष व्रत*
💥 *विशेष – द्वादशी को पूतिका(पोई) अथवा त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*
🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞

🌷 *प्रदोष व्रत* 🌷
🙏🏻 *हिंदू पंचांग के अनुसार, प्रत्येक महिने की दोनों पक्षों की त्रयोदशी तिथि पर प्रदोष व्रत किया जाता है। ये व्रत भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है। इस बार 29 जनवरी, शनिवार को शनि प्रदोष व्रत है। इस दिन भगवान शिव की विशेष पूजा की जाती है। प्रदोष पर व्रत व पूजा कैसे करें और इस दिन क्या उपाय करने से आपका भाग्योदय हो सकता है, जानिए…*
👉🏻 *ऐसे करें व्रत व पूजा*
🙏🏻 *– प्रदोष व्रत के दिन सुबह स्नान करने के बाद भगवान शंकर, पार्वती और नंदी को पंचामृत व गंगाजल से स्नान कराएं।*
🙏🏻 *– इसके बाद बेल पत्र, गंध, चावल, फूल, धूप, दीप, नैवेद्य (भोग), फल, पान, सुपारी, लौंग, इलायची भगवान को चढ़ाएं।*
🙏🏻 *– पूरे दिन निराहार (संभव न हो तो एक समय फलाहार) कर सकते हैं) रहें और शाम को दुबारा इसी तरह से शिव परिवार की पूजा करें।*
🙏🏻 *– भगवान शिवजी को घी और शक्कर मिले जौ के सत्तू का भोग लगाएं। आठ दीपक आठ दिशाओं में जलाएं।*
🙏🏻 *– भगवान शिवजी  की आरती करें। भगवान को प्रसाद चढ़ाएं और उसीसे अपना व्रत भी तोड़ें।उस दिन  ब्रह्मचर्य का पालन करें।*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *